रोहतक

कोरोना से जान गंवाने वाले बीपीएल को मिलेगा 2 लाख का बीमा कवर

Spread the love

रोहतक । कोरोना से जान गंवाने वाले बीपीएल श्रेणी के लोगों को सरकार की ओर से दो लाख रुपए का बीमा कवर दिया जाएगा। पात्र परिवारों तक आर्थिक मदद मिलने की मॉनीटरिंग के लिए जिला उपायुक्त ने तीन सदस्यीय अधिकारियों की कमेटी गठित कर दी है। कमेटी में शामिल जिला समाज कल्याण अधिकारी, जिला कल्याण अधिकारी, जिला मत्स्य अधिकारी योजना को सफल बनाने के लिए लगातार समीक्षा करेगी।

सोमवार को जिलाधीश-कम-जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अध्यक्ष कैप्टन मनोज कुमार ने प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना से जान गंवाने वाले व्यक्तियों को दो लाख रुपये के बीमा कवर के निर्णय को जिला में सख्ती से लागू करने के लिए तीन अधिकारियों की समिति गठित करने के आदेश जारी किए हैं।

राज्य सरकार ने बीपीएल श्रेणी के कोविड-19 के मरीजों को सहायता देने के लिए नई घोषणा की है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत बीपीएल या 1 लाख 80 हजार से कम वार्षिक आय वाले परिवार से संबंधित 18 से 50 वर्ष आयु वर्ग के व्यक्ति कोरोना से मृत्यु होने पर इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

कैप्टन मनोज कुमार ने कहा कि योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र व्यक्ति को सर्वप्रथम मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना के तहत 15 मई से पंजीकरण अवश्य करवाना होगा। पंजीकरण के उपरांत प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत जन धन खाता से संबंधित बैंक में 25 मई 2021 तक फार्म अवश्य भरें। राज्य सरकार द्वारा प्रति व्यक्ति को 330 बीमा प्रीमियम का भुगतान अथवा प्रतिपूर्ति की जाएगी।

बीमा कवर की पहली प्रीमियम का भुगतान लाभार्थी को करना होगा, सरकार प्रतिपूर्ति देगी

उपायुक्त ने कहा कि ऐसे व्यक्ति के परिवार को कोविड-19 किसी भी कारण से 31 मई 2021 के बाद प्राकृतिक मृत्यु के मामले में 2 लाख रुपये का मुआवजा प्रदान किया जाएगा। प्रथम किश्त का भुगतान लाभार्थी द्वारा किया जायेगा, जिसकी प्रतिपूर्ति की जायेगी तथा इसके बाद सरकार द्वारा किश्तों का भुगतान किया जयेगा।

कैप्टन मनोज ने कहा कि योजना के तहत 18 से 50 वर्ष की आयु के व्यक्ति की एक मार्च 2021 से 31 मई 2021 के बीच कोविड-19 महामारी से मृत्यु होने पर बीपीएल परिवार को 2 लाख रुपये की राशि का एक्सग्रेशिया अनुदान दिया जाएगा।

सीएम परिवार समृद्धि योजना के लिए पोर्टल पर आवेदन करना होगा

उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना के लिए पोर्टल https://cm-psy.haryana.gov.in पर पंजीकरण करवाना होगा अथवा लाभार्थियों द्वारा सीएससी सेंटर से सम्पर्क करना होगा। लीड बैंक मैनेजर को इस योजना के सुचारू ढंग से संचालन हेतु बैंकों में कर्मचारी नियुक्त किये जायेंगे तथा स्टाफ सदस्यों की सूची साझा की जायेगी। जिला प्रबंधक जिला में सीएससी के प्रभावी क्रियान्वयन की निगरानी करेंगे तथा प्रतिदिन रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे।

मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी पोर्टल पर डाटा अपडेट करेंगी। सभी संबंधित अधिकारी शाम 6 बजे से पूर्व प्रतिदिन नोडल अधिकारी के माध्यम से रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। आदेश की उल्लंघना करने वालों के विरुद्घ आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धाराओं 51 से 60 के तहत सख्त कार्रवाई की जायेगी।