सतनाली

मुख्यमंत्री ने की ईमानदारी की मिसाल पेश करने वाले पं. कृष्ण शर्मा की प्रशंसा

Spread the love

सतनाली । प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने 50 हजार रुपए लौटाकर ईमानदारी की मिसाल पेश करने वाले पं. कृष्ण शर्मा की ट्वीट कर प्रशंसा की है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया कि ऐसे लोग समाज में मिसाल कायम करते हैं सभी को इनसे प्रेरणा लेनी चाहिए।

गौर रहे कि खंड के गांव नावां के ज्योर्तिविद पं. कृष्ण कुमार शर्मा ने रास्ते में पड़े मिले 50 हजार रुपए उसके मालिक को लौटकर ईमानदारी की मिसाल पेश की थी।

पंडित कृष्ण कुमार शर्मा ने बताया कि वे सतनाली से वापस अपने गांव नावां जा रहे थे तो सतनाली में मुख्य चौक बस स्टैण्ड रोड़ पर उन्हें रुपए पड़े मिले तो उन्होंने इसकी सूचना सतनाली पुलिस को दी। इसके बाद डिगरोता वासी घनश्याम ने बताया कि उन्होंने सतनाली एसबीआई बैंक से 1,24500 रुपए निकलवाए थे और घर आकर देखा तो पाया कि इनमें से (50,000) 500 रुपए की एक गड्डी कम थी।

सतनाली में उन्होंने दुकानदारों से रुपए गुम होने के बारे में बताया, लेकिन पता नहीं चल पाया। इसके बाद जब वे सतनाली थाने में रुपए गुम होने की शिकायत देने आ रहे थे तो रास्ते में मिले गांव के आदमी ने बताया कि पं.कृष्ण शर्मा को रास्ते में रुपए मिले हैं तो वे तीनों पं. कृष्ण शर्मा के पास गए और सभी सतनाली थाने में आए।

इसके उपरांत बैक में रुपए निकलवाने की जानकारी के अलावा दुकानदारों आदि से संतुष्टि होने के बाद पुलिस की मौजूदगी में पं. कृष्ण शर्मा ने 50,000 रुपए घनश्याम को वापिस लौटा दिए। इस मौके पर उपस्थित लोगों ने पं. कृष्ण कुमार शर्मा की ईमानदारी की प्रशंसा की और कहा कि इससे दूसरों को भी प्रेरणा मिलेगी।

इसी कड़ी में मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने ट्विटर पर ईमानदारी की मिसाल पेश करने वाले पं. कृष्ण कुमार शर्मा की प्रशंसा करते हुए ट्वीट किया कि ऐसे लोग समाज में मिसाल कायम करते हैं सभी को इनसे प्रेरणा लेनी चाहिए। था उदाहरण, सीएम मनोहर लाल ने ट्वीट कर की प्रशंसा