हथीन

सत्ता पक्ष के लोग ही उडा रहे हैं सरकार के आदेशों की धज्जियां

Spread the love
  • कानून सिर्फ गरीबों व आम नागरिकों के लिए ही लागू होकर रह गया

हथीन, माथुर @ कानोड़ न्यूज ।
प्रदेश में दिन प्रतिदिन बढती कोरोना की रफ्तार को लेकर एक तरफ जहां सरकार चिंतित है और अभी तक सुरक्षा की दृष्टि से स्कूल, कॉलेज तक नहीं खोले हैं और प्रदेशवासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंस का पालन करने और फेस मास्क लगाने के आदेश जारी किए हुए हैं, बिना फेस मास्क के घर से बाहर निकलने पर 500 रूपये जुर्माना करने का प्रावधान किया हुआ है। जिला उपायुक्त नरेश नरवाल ने कोविड-19 के सामुदायिक संक्रमण को रोकने हेतू दंड प्रक्रिया नियमावली की धारा 144 के तहत आदेश जारी किए हैं कि कोई भी संगठन या प्रबंधन सार्वजनिक स्थल पर 5 या इससे अधिक व्यक्तियों को एकत्रित होने की अनुमति नहीं देगा। आदेशों की उल्लंघना करने वालों के विरूद्ध भारतीय दंड सहिंता 1860 की धाराओं 188, 269 एवं 270 के तहत सख्त कार्यवाही की जाएगी। जिला उपायुक्त के यह आदेश 30 सितम्बर तक लागू हैं। बावजूद इसके सत्ता पक्ष के नेता एवं पदाधिकारी तथा समर्थक सरकारी आदेशों की जमकर धज्जियां उडा रहे हैं। समाचार के साथ प्रकाशित तस्वीर में आप स्पष्ट देख सकते हैं कि किस प्रकार खुलेआम धज्जियां उडाई जा रही है। जिसमें न तो सोशल डिस्टेंस का पालन किया गया है और न ही फेस मास्क लगाए हुए हैं और इसके अलावा धारा 144 का भी खुलेआम उल्लंघन किया गया है। क्योंकि इस तस्वीर में 5 से ज्यादा की संख्या में लोग स्पष्ट नजर आ रहे हैं। इस तस्वीर से ऐसा प्रतित होता है कि सरकार के कानून सिर्फ गरीब एवं आम आदमियों के लिए ही लागू होता है और सत्ता पक्ष के लोग सरेआम कानून की धज्जियां उडाते हुए घूम रहे हैं।